अपराधियों को मार गिराने में पुलिस नहीं करे संकोच, कानूनी अड़चने नहीं आयेगी सामनेः डीजीपी

पुलिस के मनोबल में वृद्धि एवं जनता के प्रति विश्वास कायम रखने को बेहतर पुलिसिंग को समीक्षात्मक बैठक संपन्न

दुमका, 19 नवंबर। डीजीपी एम वी राव ने गुरूवार को एसपी दुमका, एसपी अभियान सहित डीएसपी रैंक के पदाधिकारियों के साथ समीक्षात्मक बैठक एसपी कार्यालय सभागार में आयोजित हुई। इस अवसर पर डीपीपी एम वी राव ने बताया कि बेहतर कानून व्यवस्था एवं अपराध नियंत्रण को लेकर रूटीन बैठक है। पुलिस कर्मियों का कल्याणकारी सहित विभिन्न मुद्दे को लेकर गहन समीक्षात्मक बैठक हुई। पुलिस के मनोबल में वृद्धि, पुलिस के प्रति जनता के विश्वास में वृद्धि एवं कार्य व्यवस्था में बेहतर एवं तेजी से सुविधा देने को लेकर बैठक आयोजित हुई। पिछले छह माह में डीएसपी के कार्यकलाप, उनके क्षेत्रों में अपराधी की अद्यतन स्थिति को लेकर बैठक हुई। अपराध नियंत्रण को लेकर अधिक ध्यान देने एवं विगत दिनों में अवैध शराब का निर्माण सहित नशीले पदार्थ के कारोबार को नियंत्रण को लेकर बैठक हुई। अवैध हथियार से लैश अपराधकर्मियों के साथ कठोरता से पुलिस पेश आयेगी। आवश्यकता पड़ने पर अपराधियों को पुलिस गोली मार गिरा देगी। डीजीपी ने कहा कि पदाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि वैसे अपराधियों को गोली मार गिराने का काम करें। जो कानून सम्मत कार्रवाई है। पुलिस इस कार्रवाई से पिछे नहीं हटे और जरा भी संकोचित महसूस नहीं करें। ऐसे कार्रवाई में कानूनी अड़चने सामने नहीं आयेगी। कुख्यात अपराधियों की सूची तैयार कर वर्तमान गतिविधियों की पुलिस जांच करेगी। नागरिकों को किसी प्रकार की परेशानी पर पुलिस कठोरता से पेश आयेगी। अपराधकर्मियों की जानकारी होने पर सीधे उनसे संपर्क कर सकते है। उनके नामों की गोपनियता रखी जायेगी। पुलिस सूचना देने वाले को पुरस्कृत भी करेगी। दुमका में कानून व्यवस्था को लेकर संतोष प्रकट करते हुए डीजीपी ने कहा कि खासकर पुलिसिंग में सुधार की आवश्यकता बताया। डीजीपी ने कहा कि कहीं भी छीनतई सहित अन्य अपराधों पर रोक लगाना प्राथमिकता होगी। उन्होंने खासकर पुलिस पदाधिकारियों एवं कर्मियों को अनुशासन में रहने की अपील करते हुए कहा कि रोड़ पर पुलिस कर्मियों द्वारा वसूली होने पर जेल पहुंचाने का काम किया जायेगा। आर्थिक के दिशा में कहा कि बालू, पत्थर और कोयला के अवैध उत्खनन को लेकर पुलिस संबंधित विभाग को पुलिस बल मुहैया करवायेगी। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि नाजायज बच्चों को पालने की जिम्मेवारी पुलिस की नहीं है। उन्होंने कहा कि अपराध को लेकर जीरो टोलरेंस पर पुलिस काम करेगी। पुलिस की हत्या, दुष्कर्म, डकैती सहित तमाम अपराधों पर पूर्ण अंकुश लगाना प्राथमिकता होगी। अपराध जहां से पनती है, वह जगह काबू में रहे। अपराध नशीले पदार्थो की अधिक बिक्री पर रोक लगाने का काम करेगी। जिससे अपराध पर पूर्णतः अंकुश लगाया जा सके।

सप्ताह-10 दिन में रंगदार मुन्ना राय का होगा तांडव समाप्त
पत्थर औद्यौगिक क्षेत्र शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र में पत्थर कारोबारियों को अपराधी मुन्ना राय द्वारा रंगदारी मांगने को लेकर धमकी देने को लेकर कहा कि दुमका आने का मुख्य कारण वह भी है। उन्होंने कहा कि जो भाषा का उसने इस्तेमाल किया है, उसी भाषा में पुलिस जबाब देगी। उन्होंने कहा कि बहुत कठोर रूप से पुलिस पेश आयेगी। उसका अंत सप्ताह, 10 दिन में हो जायेगा। पुलिस कानूनी प्रक्रिया के तहत गिरफ्तार करे। इसी प्रकार का तांडव करेगा, तो पुलिस मार गिरायेगी। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि क्रिमिनल को कूट दिए जायेंगे। उन्होंने राजनीति संरक्षण देने की बात कहा कि राजनीति, जात और धर्म से मतलब नहीं है। पुलिस का कर्त्तव्य और धर्म लोगों को सुरक्षा एवं जानमाल को सुरक्षा प्रदान करना है। पुलिस का किसी राजनैतिक से नहीं साहूकार है और नहीं राजनैतिक दल से घबड़ाती है। पुलिस लगातार गश्त लगा अपराधियों का आवागमन पर रोक को लेकर पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी। नक्सल गतिविधियों पर रोक को लेकर कहा कि एसएसबी बटालियन से विभिन्न मुद्दे पर चर्चा कर रोक के दिशा में कार्य कर रही है। बैठक में डीआईजी सुदर्शन मंडल, एसपी अंबर लकड़ा, एसएसबी के पदाधिकारी उपस्थित थे।

admin

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

वाहनों से लूट के फिराक में देशी कट्टा के साथ दो अपराधी गिरफ्तार, गए जेल

Thu Nov 19 , 2020
दुमका, 19 नवंबर। ट्रक चालकों से लूटपाट का वारदात को अंजाम देने के क्रम में […]

You May Like