रंगदार से मेरा नाम बुलवाना कहीं बाबूलाल की साजिश तो नहींः बसंत

गोलीकांड के आरोपी रंगदार मुन्ना राय ने आडियो में खुद को बताया था विधायक का आदमी एसपी से कहा कि जल्द गिरफ्तार हो रंगदार

दुमका, 18 नवंबर। मैं खुद चकित हूं कि शिकारीपाड़ा का एक रंगदार मुन्ना राय मेरे नाम का सहारा लेकर पत्थर कारोबार से जुडें लोगों से रंगदारी मांग रहा है। मुझे लगता है कि सारी साजिश बाबूलाल मरांडी की है। वे राय लोगों के काफी करीबी हैं। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगी हुई है। गिरफ्तारी के बाद स्वयं रंगदार को देखना चाहूंगा। बसंत सोरेन ने कहा कि एसपी अंबर लकड़ा से इस संबंध में बात हुई है। उन्हें सख्त निर्देश दिया गया कि यह सब क्या हो रहा है। जल्द गिरफ्तारी पुलिस करती है, तो ठीक है। एसपी से कहा कि अगर पुलिस अपराधी की गिरफ्तारी नहीं पाती है, तो उन्हें कहे, वह स्वयं सक्षम है। ऐसे असमाजिक तत्वों पर काबू पाने के लिए। उसे हर हाल में कानूनी हिरासत में जल्द भेज दिया जायेग

दरअसल 25 लाख की रंगदारी नहीं मिलने पर 12 नवंबर को शिकारीपाड़ा के रंगदार मुन्ना राय ने पत्थर कारोबारी मनोज भगत को गाली मार दी थी। उसके दूसरे दिन उसने पत्थर माफिया अजित गोस्वामी से 40 लाख की रंगदारी मांगी थी। वायरल आडियो में मुन्ना अजित से कहता है कि आपको पता है कि मैं बसंत भैया का आदमी हूं। वायरल आडियो पर बुधवार की सुबह खिजुरिया स्थित आवास पर झामुमो विधायक बसंत सोरेन ने कहा कि बाबूलाल मरांडी ने मुख्यमंत्री से एनआइए से जांच कराने की मांग की है। मैं तो कहता हूं कि किसी भी संस्था से जांच करा लें। कोई शरारती इंसान इस तरह की बात करता है तो इसकी जांच होने चाहिए। एसपी से सारी जानकारी लेकर जल्द गिरफ्तार करने को कहा है। गिरफ्तारी के बाद मुन्ना से व्यक्ति तौर पर मिलकर यह जानने का प्रयास करूंगा कि उसने किसके कहने पर उनका नाम लिया है। कहा कि आडियो पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी वायरल कर रहे हैं। ऐसा लगता है कि सारा कुछ उनका किया है। राय लोगों से बाबूलाल की खूब बनती है। उनका काफी संपर्क रहा है। पिछले चुनाव में सभी ने इस बात को महसूस किया भी होगा। मुन्ना धरतीपुत्र तो नहीं है जो जमीन में समा जाएगा। पुलिस उसकी तलाश में लगी हुई है। जल्द वह पुलिस की गिरफ्त में होगा।

कारोबारी बेधड़क होकर करें काम
विधायक ने कहा कि किसी भी व्यवसायी को डरने की आवश्यकता नहीं है। मुन्ना जैसे लोगों से डरने की जरूरत नहीं है। इस संबंध में डीआइजी व एसपी से बात की है। जहां परेशानी आती है तो सीधे अधिकारियों से संपर्क करें। बेधड़क होकर अपना काम करें। खदान क्षेत्र में किसी का आतंक नहीं चलेगा। कोई आतंक करने का प्रयास करेगा तो मैं स्वयं उसके लिए आतंक बन जाऊंगा।

admin

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

नेम निष्ठा के साथ महापर्व छठ का दूसरे दिन खरना संपन्न, पहला अर्ध्य आज

Thu Nov 19 , 2020
दुमका का छठ घाट सज-धज कर तैयार, पहला अर्घ्य आज दुमका, 19 नवंबर। लोक आस्था […]

You May Like