वर्तमान हेमंत सरकार कथनी नहीं करनी पर विश्वास रखती हैः पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री

13 करोड़ 50 लाख से निर्मित पेयजल आपूर्ति योजना जनता को समर्पित

दुमका, 13 सितंबर। धोबना हरिणबहाल बहु ग्रामीण जलापूर्ति योजना का उद्घाटन पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने रविवार को मसलिया प्रखंड में किया गया। उद्घाटन मंत्री ने फीता काटकर एवं नारियल फोड़कर किया। 13 करोड़ 50 लाख रुपये से इस जलापूर्ति योजना का निर्माण किया गया है। 21 गांव के 2693 घरों को नल के माध्यम से इस योजना के द्वारा शुद्ध पेयजल मिलेगा। गृह संयोजन की संख्या 2693 प्रस्तावित है। जिनमें 652 पूर्ण कर लिया गया है। 14 जून 2018 को इस योजना की शुरुआत की गई थी।

2693 घरों को निर्बाध रूप से पेयजलापूर्ति होगी

इस अवसर पर पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि आज का दिन इस गांव के लिए ऐतिहासिक है। सरकार शुद्ध पेयजल घर-घर तक पहुंचाने के लिए कृत संकल्पित है। हर घर तक नल के माध्यम से शुद्ध पेयजल पहुंचाने के लिए सरकार निरंतर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि इस पेयजल आपूर्ति योजना से 2693 घरों को निर्बाध रूप से पेयजल आपूर्ति होगी। इस पेयजलापूर्ति योजना का रखरखाव सरकार द्वारा संवेदक के माध्यम से 5 साल तक किया जाएगा। 5 साल तक सभी लोगों को मुफ्त में शुद्ध पेयजल मिल सकेगा। शुद्ध पेयजल नहीं मिलने के कारण लोगों को कई प्रकार के स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होती हैं और शुद्ध पेयजल नहीं मिलने के कारण लोगों को कई प्रकार की परेशानियां भी हो रही है। शुद्ध पेयजल नहीं मिलने के कारण बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक को बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है। सरकार राज्य के हर एक लोगों की चिंता करती है। समाज के अंतिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं को पहुंचाने के लिए कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य बनने के बाद दुर्भाग्य कारणों से कुछ लोगों ने यहां के खनिज संपदा से दूसरों को फायदा पहुंचाने का कार्य किया है, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। आपने जिस सरकार को चुनकर भेजा है, वह सरकार हर परिस्थिति में जनहित के लिए कार्य करेगी। झारखंड को बेहतर बनाने का संकल्प मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने लिया है और इस दिशा में मुख्यमंत्री दिन-रात कार्य कर रहे हैं। हर एक राज्यवासी तक सरकार की योजनाएं पहुंचाने की दिशा में वे दिन रात सोचते हैं।

मुख्यमंत्री ने जो भी वादे किए हैं, हर एक वादा वे करेंगे पूरा

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने जो भी वादे राज्य वासियों से किए हैं, हर एक वादा वे पूरा करेंगे। यह मैं आपको विश्वास दिलाता हूं। सरकार कथनी नहीं करनी पर विश्वास रखती है। मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि जो भी योजना बन चुकी है और अभी तक चालू नहीं हुई है उन योजनाओं को 15 दिनों के अंदर चालू कर लोगों को लाभ कैसे मिले इसे सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि यह तो बस शुरुआत है, बहुत जल्द सभी क्षेत्रों में विकास आम जनों को दिखाई देगा।
सरकार बनने के बाद राज्य की स्थिति काफी चिंताजनक थी। लेकिन मुख्यमंत्री ने हार नहीं मानी और विकास का पहिया तेजी से कैसे बढ़े इस दिशा में उन्होंने कार्य करना शुरू कर दिया।

मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि करोड़ों की जीएसटी की राशि केंद्र सरकार से नहीं मिल रही है, जिससे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। केंद्र सरकार द्वारा लोन लेने की बात कही जा रही है। उन्होंने कहा कि झामुमों अपना हक लड़ लेना जानती है। यदि सीधी अंगुली से धी नहीं निकले, तो महागठबंधन की हेमंत सरकार अंगुली टेढ़ी कर धी निकालना जानती है। उन्होंने इस अवसर पर पूर्ववर्ती भाजपा सरकार पर राज्य के खनिज संपदा को लूट पूंजिपतियों को देने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार जुमलेबाजी की सरकार रही है। राज्य की संपदा को लूट सोने के चम्मच से खाना खाने वाले लोगों को देने का काम किया है।

सिर्फ योजना बनाना महत्वपूर्ण नहीं है, योजना का लाभ जनता को मिले यह सबसे महत्वपूर्ण है

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री समय-समय पर सभी विभागों के साथ बैठक कर राज्य में हो रहे कार्यों की जानकारी लेते रहते हैं और हर व्यक्ति को योजनाओं से कैसे जोड़ा जाये। इसके लिए चिंतित रहते हैं। सिर्फ योजना बनाना महत्वपूर्ण नहीं है,योजना का लाभ जनता को मिले यह सबसे महत्वपूर्ण है और इस दिशा में सरकार कार्य कर रही है।

एक जिम्मेवार नागरिक की तरह कार्य करें

म्ांत्री मिथलेश ठाकुर ने लोगों से एक जिम्मेवार नागरिक की तरह कार्य करने का अपील किया। जो भी समस्याएं आपके पंचायत या गांव में हैं, उसकी सूचना उचित माध्यम से सरकार तक पहुंचाने का कार्य करें। जिससे सरकार उन समस्याओं को जल्द से जल्द दूर कर सके। आम जनों को ध्यान में रखते हुए कई योजनाएं बनाई जा रही हैं और जल्दी ही सभी योजनाएं का लाभ योग्य लाभुकों को मिलेगा।
इससे पूर्व मुख्य अभियंता रामप्रवेश सिंह द्वारा विस्तृत रूप से धोबना हरिणबहाल बहु ग्रामीण जलापूर्ति योजना के बारे में अतिथियों को अवगत कराया गया। इससे पूर्व सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर का पारंपरिक रीति रिवाज लोटा पानी से स्वागत किया गया। इस अवसर पर झामुमों पार्टी महासचिव विजय कुमार सिंह, झामुमों छात्र मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष बसंत सोरेन, जिला सचिव शिवा बास्की, केंद्रीय कार्य समिति सदस्य सलाम अंसारी, दिनेश मुर्मू आदि उपस्थित थे।

admin

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

आदिवासियों के पुरातन ज्ञान को आधुनिकता के साथ मेल कर उनको लाभाविंत करेगा नई शिक्षा नीतिः डॉ लुईस

Sun Sep 13 , 2020
नई शिक्षा नीति पर अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन दुमका, […]

You May Like