दुमकाः सड़क हादसे में बाईक सवार मां-बेटे सहित तीन की मौत, तीन गंभीर, जाम

दुमकाः सड़क हादसे में बाईक सवार मां-बेटे सहित तीन की मौत, तीन गंभीर, जाम

मुआवजा की मांग को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस को बनाया बंधक

दुमका, 11 अगस्त। मंगलवार का दिन हादसे का दिन साबित हुआ। जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में सड़क दुर्घटना में मां-बेटे सहित तीन की मौत हो गई। वहीं दुर्घटना में तीन युवक गंभीर रूप से घायल हो गये। जिसमें एक की हालत नाजुक बनी हुई है। पहली घटना शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के दुमका-रामपुरहाट मुख्य पथ पर सरसडंगाल गांव के कब्रिस्तान के समीप सुबह में घटी। जहां अज्ञात वाहन के चपेट में आने से मां और बेटे की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मृतका मां बालकी सोरेन( 50) एवं मृतक बुदिसल मरांडी( 22) थाना क्षेत्र के छोटा चपुरिया गांव का रहने वाला था। अहले सुबह दोनों किसी काम से बाईक से कहीं जा रहे थे। जहां रास्ते सरसडंगाल के पास में दुर्घटना में दोनों की मौत हो गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल, दुमका भेजा। लेकिन इसके बाद घटनास्थल पर जमा हुए ग्रामीणों ने पुलिस को घेर लिया। ग्रामीण बिना परिजनों के आए शव को ले जाने पर रोष प्रकट करते हुए सड़क जाम कर दिया। मुख्य सड़क लगभग 3 घंटे जाम रहा। जिससे सड़क के दोनों किनारे वाहनों की लंबी कतारें लग गई। ग्रामीण इतने उत्तेजित थे कि घटनास्थल से पुलिस को जाने नहीं दिया गया और मुआवजे की मांग करने लगे। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए प्रशासन के वरीय पदाधिकारियों को सूचित किया गया। सूचना पर सीओ अमृता कुमारी मौके पर पहुंची। ग्रामीणों के साथ बातचीत कर मामले को शांत कराने की कोशिश की। लेकिन ग्रामीण बिना मुआवजा के पुलिस को छोड़ने को तैयार नहीं हुए। तब जाकर थाना प्रभारी सह पुलिस निरीक्षक संजय सुमन ने मुआवजे के रूप में 40,000 देना स्वीकार किया। इसके बाद मजिस्ट्रेट सह सीओ अमृता कुमारी ने यथाशीघ्र सरकार के द्वारा प्रदत आर्थिक सहायता देने की बात कही। ग्रामीण इतने से संतुष्ट नहीं हुए और इस सड़क पर चलने वाले वाहनों से तब तक उगाही करने की बात कही। जब तक मुआवजा नहीं मिल जाता। प्रशासन ने किसी तरह समझा-बुझाकर और ग्रामीणों की बात मानते हुए सड़क जाम समाप्त करवाया। इस दौरान लोगों की भीड़ जमी रही और सोशल डिस्टेंस की जमकर धज्जियां उड़ती रही। बाद में चार घंटे बाद जाकर जाम हटवाया गया। इधर पुलिस शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप अज्ञात वाहन के खिलाफ मामला दर्ज कर अग्रतर कार्रवाई में जुट गई है। यहां बता दें कि पत्थर औद्योगिक क्षेत्र शिकारीपाड़ा में सड़कों के किनारे दर्जनों क्रशर होने के कारण उड़ते धूल-कण से सड़कों से गुजरने वाले छोटे वाहन खास कर दो पहिया वाहनों के लिए मुसिबत बनी रहती है। क्रशर से उड़ने वाले धूल-कणों के कारण नंगी आंखों से इस सड़क से गुजरना मौत को दावत देना है। धूल-कणों के उड़ने से सड़क सहित आस-पास के इलाकों में दिन में ही अंधेरा छाया रहता है। इसके अलग आस-पास के लोग कई गंभीर बीमारी से भी ग्रसित होते रहते है।

ट्रक के चपेट में आने से डेढ़ घंटा फंसा रहा बाईक सवार, गंभीर

दूसरी घटना देर शाम शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के ही दुमका-रामपुरहाट मुख्य पथ पर ही चायपानी मोड़ के समीप घटी। जहां सरसडंगाल की ओर से आ रही एक चिप्स लदा ट्रक के चपेट में आने से थाना क्षेत्र के सातुपाड़ा निवासी बाइक सवार युवक सुकुमार देहरी आ गया। सुकुमार देहरी अपने घर की ओर जा रहा था। रास्ते में चायपानी मोड़ के समीप बाइक सवार बाइक समेत ट्रक के नीचे जाकर फंस गया। लगभग डेढ़ घंटा फंसा रहा। मौके पर पुलिस पहुंचकर एवं ग्रामीण की मदद से युवक को अंदर से बाहर निकाल एंबुलेंस से इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज, दुमका अस्पताल भेजा। युवक का एक बाया पैर बुरी तरह से घायल हो गया है।

ट्रक की टक्कर में एक बाईक सवार की मौत, दो गंभीर

जरमुंडी थाना क्षेत्र में सड़क दुर्घटना में एक युवक की मौत हो गई। वहीं दुर्घटना में घायल दो अन्य युवकों की हालत नाजुक बनी हुई। दुर्घटना थाना क्षेत्र के दुमका-देवघर मुख्य पथ पर दुधानी के समीप घटी। घटना मंगलवार की शाम की है। जानकारी के अनुसार बाईक सवार तीन युवक अपने घर की ओर जा रहे थे। रास्ते में दुधानी के समीप तेज गति ट्रक ने टक्कर मार दी। जिसमें तीनों युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस गंभीर अवस्था में घायल युवकों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, जरमुंडी में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया। जहां थाना क्षेत्र के भोरनडीहा गांव निवासी 22 वर्षीय दीपक राय ने दम तोड़ दिया। अन्य घायल दो सवार को प्राथमिक उपचार के बाद मेडिकल कॉलेज, दुमका रेफर कर दिया गया। अन्य गंभीर रूप से घायल युवकों में थाना क्षेत्र के ठाड़ीपाथर गांव निवासी राकेश राय एवं बजरमारा गांव निवासी करण राय है। दोनों में एक की स्थिति नाजुक बनी हुई है।

बोकारो और स्कार्पियो में जोरदार भिड़त, बाल-बाल बचा सवार

चौथी घटना गोपीकांदर थाना क्षेंत्र के दुमका-पाकुड़ मुख्य पथ पर जोड़ासिमाल गांव के समीप दुमका की ओर से आ रही तेज रफ्तार बोलेरो और बरहेट से आ रही स्कार्पियो के बीच जोरदार भिड़त हो गई। जिसमें सवार लोगों को जोरदार भिड़त से हल्की- फुल्की चोट आयी। जिसे गोपीकांदर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के बाद घर भेज दिया गया। बतातें चले कि दोनों वाहनों में टक्कर बच्चे को बचाने के क्रम में हुआ। चालक की माने तो जोड़ासिमाल गांव के तीखे मोड़ के समीप आचानक एक बच्चे दौड़ते हुआ रोड क्रॉस कर रहा था। बच्चे को बचाने के प्रयास में दुर्घटना घटी। बच्चा तो बल-बल बच गया। लेकिन दोनो गाड़ी की आपस में भिड़त हो गई। घटना की सूचना पर थाना प्रभारी मौके पर पहुंच कर सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाया। वहीं दोनो गाड़ियों को जब्त कर थाना परिसर लें आया गया। बता दे कि दोनो गाड़ी के चालकों से पूछताछ किया जा रहा हैं।

Niraj Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

नहीं रहे मशहूर शायर राहत इंदौरी

Tue Aug 11 , 2020
नहीं रहे मशहूर शायर राहत इंदौरी इंदौर, 11 अगस्त। कोरोना से संक्रमित मशहूर शायर राहत इंदौरी […]

You May Like