सच्ची घटना पर आधारित फ़िल्म ’कसौटी रिश्तों की’ का विमोचन डीसी ने की

सच्ची घटना पर आधारित फ़िल्म ’कसौटी रिश्तों की’ का विमोचन डीसी ने की

दुमका, 08 अगस्त। शैली सृजन के बैनर तले बनी शार्ट फिल्म ’कसौटी रिश्तों की’ का विमोचन शनिवार को डीसी राजेश्वरी बी ने किया। यह फिल्म सच्ची घटना पर आधारित बहुत ही संवदेनशील और प्रेरणादायी है। इस फिल्म के लेखक और निर्देशक विक्की बिकास ने अपनी कठिन मेहनत और लगन का परिचय देते हुए बारीकी के साथ इसका निर्माण करने का प्रयास किया। विक्की बिकास ने दुमका शैली सृजन से अपना सफर शुरू करते हुए बॉलीवुड (मुंबई) में अपनी पहचान बनाने के कोशिश में है। सोनी चैनल पर आने वाली सीरियल ’पृथ्वी वल्लव’ में भी जूनियर आर्टिस्ट के रूप में अभिनय किया। साथ ही वीडियो एल्बम, एक फेमस नाटक जंगल बुक से जुड़ें और अभी एक अच्छे रोल की तलाश में बॉलीवुड में उनका संघर्ष जारी है। शैली सृजन के सचिव सह निर्देशक डा नवीन चंद्र ठाकुर ने कहा कि ’शैली सृजन के द्वारा हमेशा नए कलाकारों को प्रशिक्षण दिया जाना और नए कार्यों को अंजाम दिया जाना इसका इतिहास रहा है। इस इतिहास को दोहराने का कार्य के दौरान इस तरह का काम बारम्बार किया जायेगा। इसके लिए शैली सृजन के सभी कलाकार बधाई के पात्र है। शैली सृजन के मैनेजिंग डायरेक्टर अभिषेक कुमार दास के अभिनय को काफी सराहा गया। इन्होने अपने बेहतरीन अभिनय का परिचय दिया है।’कसौटी रिश्तों की’ कहानी एक पारिवारिक फिल्म होने के साथ-साथ समाज को आईना दिखाने का काम करेगी। इस कहानी में एक परिवार के पति-पत्नी को कोरोना का संक्रमण हो जाता है। लेकिन उसका बेटा कोरोना संक्रमित नहीं रहता है। लेकिन इसके बावजूद भी रिश्तेदार, मित्र एवं सभी लोग इस परिवार से दूरी बना लेते है और उसके बच्चे को अनाथालय में रखा जाता है। इस संवेदनशील मुद्दे को ध्यान में रखते हुए सभी कलाकारों ने अपना बेहतरीन अभिनय का परिचय दिया है। इस फिल्म में विक्की बिकास मुख्य अभिनय में है। पत्नी की भूमिका में तानी सचदेवा और बेटा की भूमिका में आराध्य कश्यप है। अभिषेक कुमार दास, पायल केशरी ने भी इस फिल्म में बेहतरीन अभिनय किया है। जो कि मुख्य पात्र के मित्र है। दीपक कापरी सलीम की भूमिका में है। जो इस फिल्म में अनाथालय के संचालक के रूप में है। इन्होने भी अपने दमदार अभिनय का परिचय दिया है। इस फिल्म की कहानी-कांसेप्ट डॉ नवीन चंद्र ठाकुर के द्वारा दिया गया है। जो कि राहगीर के भूमिका में है। साथ ही उज्जवल कुमार गुप्ता भी उनके सहयोगी है। इस फिल्म के सहयोगी कलाकार नीलम कुमारी, पंकज कुमार, पियूष, ऋषि, सोनी, आकाश एवं बबलू मंडल है। कैमरामेन और सहयोगी प्रोडूसर अभिषेक कुमार का काफी योगदान है। बापी ने लघु फिल्म का पोस्टर निर्माण किया। फिल्म के मुख्य एडिटर अनमोल राज है। जिन्होंने कठिन मेहनत कर इस फिल्म में चार चांद लगाया है। फिल्म निर्माण में शालिनी केसरी और ऋतुराज कश्यप का बहुत बड़ा सहयोग रहा। साथ ही अभिनेता राहुल रंजन जो कि मुंबई में बॉलीवुड अभिनेता है। उन्होंने इस लघु फिल्म में अपना अहम योगदान दिया। इस फिल्म की ख़ास विशेषता है कि जीरो बजट पर मोबाइल से शूट किया गया है। इसे शार्ट फिल्म फेस्टिवल में भी भेजा जायेगा।

Niraj Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

पाकुड़ जिला वुशु संघ किया पौधरोपण

Sat Aug 8 , 2020
पाकुड़ जिला वुशु संघ किया पौधरोपण कुमार रवि त्रिवेदी पाकुड़,8अगस्त। पाकुड़ जिला वुशु संघ की […]

You May Like