भाई-बहन के पावन रिस्ते का पर्व रक्षा बंधन पर भी दिखा कोविड-19 का भय का साया

भाई-बहन के पावन रिस्ते का पर्व रक्षा बंधन पर भी दिखा कोविड-19 का भय का साया

रक्षा बंधन में दुकानदार ग्राहकों का करते रहे इंतजार, धरी की धरी रह गई राखी

अमित यादव, मसलिया
दुमका, 02 अगस्त। कोरोना महामारी के कारण भाई-बहन का पावन रिस्ते का पर्व रक्षा बंधन में भी असर देखने को मिल रहा है। मसलिया में इस साल रक्षा बंधन पर राखी दुकानदार ग्राहकों के लिए तरसते दिखाई दे रहे हैं। भाई-बहनों का यह पर्व इस वर्ष सन्नाटा में मनने सा प्रतीत हो रहा है। दुमका जिला मुख्यालय सहित आस-पास के प्रखंडों में मसलिया, दलाही, आश्रम आदि के बाजार में राखी तो टंगी है, लेकिन खरीददारी में कमी है। इस साल स्वदेशी राखी की बिक्री हो रही है। चायनीज राखियों का इस साल बाजारों में प्रवेश नहीं हो पाया है। जिस प्रकार विगत सालों में भाई बहनों के लिए राखी की खरीदारी की चहल पहल रहती थी। वह आज सन्नाटा पसरा हुआ है।
राखियों को घर में लाने से डर रहें हैं लोग
बाजार की राखियों को घर में लाने के डर सा लगा हुआ है। कोरोना कोविड-19 में सभी पर्व त्योहारों को प्रभावित किया है। गुरु पूर्णिमा पर मंदिरों, देवालयों, प्रज्ञा पीठों में सामूहिक अनुष्ठान बंद हो गया है। ब्राह्मण पुरोहितों द्वारा घर-घर यजमान के हाथों में राखी बांधने की प्रथा कोरोना ने तोड़ दिया है। हालांकि लोगों के द्वारा पर्व को अपने घर में ही सुरक्षा के साथ मनाने के मन बनाये हुए हैं।

क्या कहते हैं दुकानदार
दुकानदार असित दास कहते है कि हर साल रक्षा बंधन दिन के पहले दुकानो में काफी भीड़ लगती थी और अच्छी खासी राखी कि बिक्री करते थे। लेकिन इस साल राखी ज्यों का त्यों दुकान में सजा हुआ रह गया।
अशोक दास कहते है कि लोग इस कदर किरोना महामारी से सहमे हुए है। देशी राखी होने के बाद भी राखी को घर ले जाने से डरते है। जिताने भी राखी लाये है सब शोभा कि वस्तु बनकर रह गया है।
उत्तम गन कहते है कि हर साल राखी से अच्छी खासी कमाई होती है। लेकिन इस साल सारे किए कराये पर पानी फिर गया है। राखी खरीदने वाला एक भी ग्राहक नहीं है, कोरोना महामारी के कारण धंधा चौपट हो गया।

Niraj Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कोरोना संक्रमित फरार तीन में से एक पकड़ाया, शेष की तलाश जारी

Sun Aug 2 , 2020
कोरोना संक्रमित फरार तीन में से एक पकड़ाया, शेष की तलाश जारी कुमार रवि त्रिवेदी […]

You May Like