नये यातायात नियमों के खिलाफ झाविमों ने निकाला आक्रोश मार्च

नये यातायात नियमों के खिलाफ झाविमों ने निकाला आक्रोश मार्च

सरकार से जनहित में पुनः विचार का किया आग्रह

दुमका। नये यातायात नियमों के कठोर एवं भारी जुर्माना वसूली के खिलाफ झारखंड विकास मोर्चा पार्टी ने बुधवार को आक्रोश मार्च रैली निकाली। आक्रोश मार्च रैली वीर कुवंर सिंह चौक से निकाल शहर भ्रमण करते हुए टीन बाजार पहुंच सभा में तब्दील हो गई। आक्रोश मार्च का नेतृत्व जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह बिट्टू कर रहे थे। नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए पार्टी नेताओं ने मोटर वाहन अधिनियम के तहत सरकार द्वारा अप्रत्याशित जुर्माना वसूली का विरोध किया है। सरकार से जनहित में पुनः विचार करने का आग्रह किया है। सरकार पर लोगों के सुरक्षा के नाम पर मोटी रकम वसूली अतिरिक्त आर्थिक भार वहन का आरोप लगाया है। सरकार आम जनता को सुरक्षा का दर्शन देकर पॉकेट से रूपए निकालने की साजिश बताया है। जिसमें मोटर मालिकों में दहशत का महौल है। राज्यव्यापी आंदोलन के तहत लोकतंत्र में मनमाने रवैया के खिलाफ सरकार विरोधी नारे लगाये। इस अवसर पर केंद्रीय प्रवक्ता डा अंजुला मुर्मू, केंद्रीय कार्य समिति सदस्य मार्था हांसदा, राजेश मुर्मू, विवेकानंद राय, अल्पसंख्यक मोर्चा जिला अध्यक्ष जमील अख्तर, युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष परवीन सिंह, नगर अध्यक्ष अलीमाम उर्फ टिंकू, दशरथ मंडल, सुभाषचंद्र हेम्ब्रम, पीटर मिंज, हीरालाल हेम्ब्रम, हराधन मरीक, अजय सिंह, प्रदीप कुमार मुर्मू, विकास दास, बहामुनी हांसदा, मो कबीर आदि उपस्थित थे।

नए मोटर अधिनियम का विरोध कर रही राजनीति पार्टी जनता के सुरक्षा एवं अच्छे नागरिक बनने में है बाधकः सिकंदर कुमार

झाविमों से हुए खटास के तर्ज पर आंकी जा रही जारी बयान

दुमका। केन्द्र सरकार द्वारा नया मोटर अधिनियम 2019 (संशोधन ) नियम के लागू करने का फैसले का एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते स्वागत करते हुए मजिस्ट्रेट क्लोनी निवासी सिकंदर कुमार राज्य के जनता से अपील करते हुए जिस प्रकार घर के लिए घर में दरवाज और खिड़की जरुरी है। कहीं जाने के पहले घर के दरवाज में सुरक्षा के लिए ताला लगाकर जाते है। उसी प्रकार ये मोटर नियम सभी नागरिक के सुरक्षा के लिए जरुरी है। सभी नागरिक को अपने कर्तव्य का निर्वाहन करते हुए नियम का पालन करने को प्रेरित किया। साथ ही सरकार और जिला प्रसाशन को सहयोग कर एक अच्छे नागरिक होने का परिचय देने का अपील किया है। प्रशासन से इस नियम के बारे में शिविर लगाकर जनता को जागरूक करने का अपील किया है। जिससे जनता अपने कर्तव्यों के प्रति जागरूक होकर जिला प्रशासन का सहयोग कर सके। उन्होंने राजनीतिक पार्टी द्वारा इस नियम का विरोध पर जनता को गुमराह करने का प्रयास बताया है। राजनीतिक दलों के बातों में नहीं आने आने का अपील करते हुए चुनावी फायदा का राजनीति बताया है। नियम का विरोध जनता के सुरक्षा और एक अच्छे नागरिक बनने में बाधक बताया है। यहां बता दें कि सिकंदर कुमार का पूर्व में झाविमों पार्टी के हिमायती रह चुके है। फिलहाल झाविमों पार्टी से कुछ दिनों से अच्छे संबंध नहीं रहे है। सिकंदर कुमार का सोशल मीडिया और प्रेस विज्ञप्ति जारी कर पूर्व निर्धारित झाविमों के नये यातायात नियमों के खिलाफ आयोजित कार्यक्रम को लेकर पार्टी और उनके बीच के हुए खटास के रूप में उभर कर आयी बयान के रूप में देखा जा रहा है।

Niraj Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

एसकेएमयू को रूसा फंड से मिलेंगे 20 करोड़ आवंटन

Wed Sep 11 , 2019
एसकेएमयू को रूसा फंड से मिलेंगे 20 करोड़ आवंटन दुमका। सिदो कान्हु मुर्मू विश्वविद्यालय के […]

You May Like