स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना समय की मांग हैः प्रभारी प्राचार्य

स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना समय की मांग हैः प्रभारी प्राचार्य

एसपी कॉलेज में डेंगू रोग के कारण और निवारण पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन

दुमका। सिदो कान्हु मुर्मू विश्वविद्यालय की अंगीभूत इकाई एसपी कॉलेज में एनएसएस यूनिट 1 के तत्त्वधान में जिला स्वास्थ्य समिति, मेडिकल कॉलेज, दुमका के सहयोग से एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया। सेमिनार का विषय डेंगू रोगः कारण एवं निवारण रहा। यह कार्यक्रम कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य डा खिरोधर यादव की अध्यक्षता में आयोजित हुई। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता डा समीरण ने कहा कि डेंगू एक वायरल संक्रामित बीमारी है। जो संक्रमित एडिस एजिप्टी मच्छर के काटने से फैलता है। यह साफ पानी में पलता एवं बढ़ता है। इसका निदान ही बचाव है। इसका मेडिसिनल ट्रीटमेंट नहीं और ना ही कोई जड़ी बूटी का कोई उपचार है। इसका लक्षण आधारित इलाज होता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रभारी प्राचार्य डा यादव ने कहा कि स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना समय की मांग है। उन्होंने कहा कि प्रायः देखने सुनने में आता है कि लापरवाही वश या जानकारी के अभाव में ऐसे भयानक बीमारियों के चपेट में आ जाते है। जिससे स्वयं घर परिवार सब कुछ खतरे में पड़ जाता है। प्रायः कस्बाई इलाके से युवा वर्ग रोजगार की तलाश में या शिक्षा प्राप्त करने के लिए जब महानगरों की ओर रुख करते है तो छोटी-मोटी असावधानियों व जानकारी के अभाव में या फिर असुरक्षित जीवनयापन में कई जानलेवा बीमारियों के चपेट में आ जाते है। ऐसे ही असाध्य जानलेवा कारक डेंगू भी है। जिससे सजग रहने और कारणों को प्रचारित व प्रसारित करने का अपील किया। प्रोग्राम ऑफिसर सह मनोविज्ञान विभाग के शिक्षक डा विनोद कुमार शर्मा ने कहा कि शिक्षण के अतिरिक्त कॉलेज का यह भी दायित्व है कि विद्यार्थियों के स्वास्थ्य का भरसक ख़्याल रखे। चुकी स्वस्थ्य रहने से विद्यार्थियों को नहीं केवल अच्छे से पढ़ाई कर बेहतर रिजल्ट ला सकेंगे। बल्कि रचनात्मक क्षमता का विकास भी उसी तेज रफ्तार से कर सकेंगे। मेडिकल कॉलेज के जिला डेटा प्रबंधक रंजीत कुमार, केटीएस, कालाजार, जिला स्वास्थ्य समिति के सरोज ठाकुर ने सक्रिय सहयोग कर विद्यार्थियों को उक्त विषय के प्रति जागरूक करने की महती भूमिका अदा की। इस अवसर कॉलेज के विभिन्न विभागों के छात्र-छात्राओं के साथ अभिभावक के रूप में कॉलेज शिक्षकों में डा किलिश मरांडी, प्रो निर्मल मुर्मू भी उपस्थित थे। कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष डा संजीव कुमार ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *