पंजाब नेशनल बैंक से 32 लाख लूटकांड का सरगना गिरफ्तार

पंजाब नेशनल बैंक से 32 लाख लूटकांड का सरगना गिरफ्तार

14 बैंकों से 4 करोड़ कैश लूट का मुख्य आरोपी है नसीम

दुमका। दुमका पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। बैंकों को लूट का निशाना बना करोड़ों के लूट की घटना अंजाम देने वाला गिरोह का सरगना को पुलिस गिरफ्तार करने में कामयाबी रही। गिरफ्तारी गिरोह के सरगना नसीम खान उर्फ जब्बार अंसारी की हुई। गिरफ्तारी नगर थाना क्षेत्र के दुमका-देवघर मुख्य पथ पर पुसारो के समीप से बुधवार को रेकी करने के दौरान हुई। अपराधी के पास से पुलिस देशी पिस्टल सहित एक गोली बरामद की है। इसकी जानकारी प्रेसवार्ता कर गुरुवार को एसपी वाई एस रमेश ने दी। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधी पीएनबी, दुमका से हथियार के बल पर करीब 32 लाख की लूट का मुख्य आरोपी है। घटना को अंजाम 4 दिसंबर 2018 को दिया था। नसीम अब तक दो बसों और करीब 20 से 25 बैंकों को निशाना बना 3 से 4 करोड़ की अब तक लूट की घटना को अंजाम दे चुका है। एसपी ने बताया कि अपराधी रेकी कर बिहार, पशिचम बंगाल, उड़ीसा एवं झारखंड के छोटे-छोटे बैंको को निशाना बनाता था। बैंको से वर्ष 2004 में धनबाद और हजारीबाग में लूटपाट की घटना में जेल भी जा चुका है। हजारीबाग जेल में वर्ष 2006 में अपराधियों से हजारीबाग निवासी बहनोंई सराफत अंसारी के संरक्षण में पहचान होने के बाद बैंकों की लूट की योजना बना घटना को अंजाम दिया। नसीम वर्तमान में हरियाणा के गुड़गांव के एक फ्लैट में रहता है। वह मूल निवासी हजारीबाग जिला के बरही थाना क्षेत्र निवासी है।

दो बसों एवं 14 बैंको को अबतक लूट का निशाना बना चुका है आरोपी
प्रारम्भ में बस डकैती में महज 3 से 5 हजार रुपये हिस्सेदारी मिलती थी। बाद में बैंकों की डकैती में बिहार के सासाराम में यूनाइटेड बैंक लूटकांड में 2.70 लाख रुपए की लूट की। जिसमें उत्तर प्रदेश के देवरिया निवासी माधव दास, बाढ के प्रभुनाथ सिंह, चौपारण के राजेश सिन्हा, माधव दास के भतीजा पंकज दास एवं नीरज दास के साथ मिल लूट की घटना को अंजाम दिया। बंगाल के हुगली यूनाइटेड बैंक में वर्ष 2006-07 में 3 लाख, चंदन नगर कोर्ट के समीप स्थित यूनाइटेड बैंक से 35 लाख, हुगली के बाबु बाजार के यूको बैंक से 8 लाख, पुरुलिया के पीएनबी बैंक से 84 लाख, दुमका में लूटपाट के प्रयास में 2009 में जेल जा चुका है। बिहार के सासाराम में 2011 में पीएनबी में 62 लाख की लूट, बंगाल के ब्रह्मपुर में ग्रामीण विकास बैंक 14 लाख, हुगली के बैंडल में वर्ष 2014 में 8 लाख, हावड़ा के बाउड़िया में एटीएम वैन को निशाना बना 7 लाख, बिहार के बांका में केनरा बैंक से 3 लाख, वर्ष 2018 में जमुई के बरहट थाना क्षेत्र के ग्रामीण बैंक से 8 लाख की लूट एवं 2018 में ही 4 दिसंबर 2018 को 31 लाख की लूट सहित कुल 14 घटनाओं को अंजाम दे चुका है।
लूटकांड में पहले भी हो चुकी गिरफ्तारी
दुमका लूटकांड में पहले भी बालों पासवान सहित एक अन्य अपराधी की गिरफ्तारी हो चुकी है। मामले के वांछित दो अपराधी कन्हैया यादव और सनोज यादव बिहार के भागलपुर जिला में बंद है। छापेमारी दल का गठन एसडीपीओ पूज्य प्रकाश, नगर थाना प्रभारी देवव्रत पोद्दार, मुफस्सिल थाना प्रभारी कमल किशोर सिंह, हंसडीहा थाना प्रभारी अमित लकड़ा सहित 12 सदस्य शामिल थे। एसपी रमेश ने बताया कि पुलिस कानूनी कार्रवाई करते हुए भागलपुर जेल में बंद अभियुक्त को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। अपराधियों के गुड़गांव सहित अन्य जगहों की संपत्ति का जांच कर सीज करने की प्रक्रिया प्रारंभ करेगी।

Niraj Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कुख्यात नक्सली ने चुनाव लड़ने की मांगी इजाजत

Thu Nov 7 , 2019
कुख्यात नक्सली ने चुनाव लड़ने की मांगी इजाजत रांची। राजा पीटर के बाद अब झारखंड के कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन […]