जल, जमीन और जंगल की सुरक्षा पर कोई आंच नहीं आने देंगे:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

जल, जमीन और जंगल की सुरक्षा पर कोई आंच नहीं आने देंगे:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

अटल जी ने पीड़ा समझी और अलग झारखंड के साथ ही जनजातीय मंत्रालय बनाया

रांची। झारखंड पुकारा, भाजपा दोबारा के नारे के साथ सत्‍ता में एकबार फिर से वापसी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधानसभा चुनाव में मेगा इंट्री की। चुनावी रण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पलामू जिला के मुख्यालय मेदिनीनगर के चिंयांकी हवाई अड्डा मैदान में आयोजित महती जनसभा से चुनावी शंखनाद किया। उन्होंने अनुच्छेद 370 और राम मंदिर पर अपनी उपलब्धियां बतायीं। आदिवासी, बैकवर्ड-फॉरवर्ड सभी कार्ड खेलें, लेकिन उनके पूरे भाषण के केंद्र में ज्यादातर स्थानीय मुद्दे रहे। पीएम की सभा ने भाजपा को स्थायी सरकार बनाने की खासी उम्‍मीदें बांधी है।


झारखंड विधानसभा चुनाव में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व देश के गृहमंत्री अमित शाह के बाद पीएम मोदी ने अपनी पहली चुनावी सभा में अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे को उछाला। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या का विवाद कांग्रेस ने दशकों से लटकाया था। कांग्रेस चाहती तो इसका समाधान निकाल सकती थी लेकिन ऐसा नहीं किया। कांग्रेस ने वोटबैंक के फेर में अयोध्‍या को लटकाकर रखा। उसे सिर्फ अपने वोटबैंक की परवाह थी। कांग्रेस की इस सोच से देश और समाज को नुकसान हुआ। इससे समाज में दरार नहीं, दीवारें खड़ी कर दी लेकिन एक भारत-श्रेष्‍ठ भारत के लिए हम समर्पित हैं। एकता के मंत्र को लेकर हम आगे बढ़ रहे हैं। भाजपा ने वादा किया था कि जल्द से जल्द समाधान निकालेंगे और एक भारत-श्रेष्ठ भारत के लिए वैसा ही किया। आज देखिए श्री रामजन्मभूमि का विवाद हल हो चुका है। समस्याओं का निदान होता है तो आनंद आता है। भाजपा किसी समस्या को हाथ में लेती है तो उसका निदान भी निकालती है। भाजपा अपने संकल्‍प को पूरा करती है। एक-एक आदमी की मर्यादा भाजपा की प्राथमिकता है।

पीएम मोदी ने राममंदिर के साथ ही अनुच्छेद 370 के मामले को लटकाकर रखने के लिए कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा, कांग्रेस समस्‍या की जननी है, जबकि भाजपा समाधान की जनक है। भाजपा सरकारें सेवा और समर्पित भाव से काम करती है। पीएम ने कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर में आर्टिकल 370 को वे पालते रहे। जानबूझकर इसे 70 साल से लटकाकर रखा। जम्मू-कश्मीर में झारखंड सहित पूरे देश के जवान तैनात हैं। वहां शांति बनाये रखने के लिए अनेक जवानों को बलिदान देना पड़ा। भाजपा ने इसके समाधान का वादा किया था, जिसे पूरा करके दिखाया।

प्रधानमंत्री मोदी ने राम-राम से संबोधन शुरू करते हुए सबसे पहले लातेहार नक्सली हमले में शहीद पुलिसकर्मियों के प्रति संवेदना जताई। उन्होंने कहा, कि इतनी भारी संख्‍या में पहुंचे हैं। आपका अपनाअपन मेरी ऊर्जा का श्रोत है। मुझे बार-बार झारखंड आने के लिए प्रेरित करता है। मैं आपके पास खिंचा चला आता हूं। यहां चुनावी सभा का आगाज करते हुए आनंद की अनुभूति हो रही है। पलामू भाजपा के लिए मजबूत किला रहा है। पूरे भारत में कमल शान से खिला है, इसके लिए आप सबका आशीर्वाद काम आया। यहां का एक-एक बच्‍चा कमल निशान के साथ खड़ा है। जब भाजपा का जनाधार इतना नहीं था, कांग्रेस के लोग हमारा मजाक उड़ाते थे। तब से झारखंड की भावना हमारे साथ रही। वर्ष 2014 और फिर 2019 में आपने फिर से व्‍यापक जनसमर्थन देकर हमारी सरकार बनाई, यहां के सैलाब से इसबार के चुनावी नतीजे प्रतिलक्षित हो रहे हैं। यहां फिर से भाजपा की सरकार बननी बहुत जरूरी है।


पीएम मोदी ने कहा कि यह भाजपा की सरकार है। भाजपा की सरकार ने सबकी चिंता की है। हमारी सरकार ने सामान्य वर्ग के लिए भी 10 प्रतिशत आरक्षण देने का काम किया। हर गरीब परिवार को आयुष्मान योजना के तहत 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मिल रहा है। झारखंड के लिए ये गौरव की बात है कि पूरे देश को आयुष्मान बनाने के लिए ऐतिहासिक आयुष्मान योजना की शुरुआत झारखंड से ही की गई थी। सबका साथ-सबका विकास के प्रति हमारी सरकार का समर्पण ही झारखंड के वोटरों को ज्यादा आशवस्त करता है। पीएम मोदी ने कहा कि रघुवर दास सरकार ने सबके लिए काम किया। 30 नवंबर को आपको सिर्फ और सिर्फ एक ही बात याद रखनी है और वो है कमल फूल। कमल फूल पर बटन दबाकर अपना वोट डालें और आने वाले पांच वर्षों के लिए एक समर्पित सरकार चलाने का मौका दें। उल्लेखनीय है कि झारखंड में 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक 5 चरणों में वोटिंग होगी। 23 दिसंबर को नतीजा आएगा। राज्य की 81 विधानसभा सीटों में से भाजपा ने 79 पर प्रत्याशी उतारे हैं।

अटल जी ने पीड़ा समझी और अलग झारखंड के साथ ही जनजातीय मंत्रालय बनाया

चुनावी सभा में उमड़े जनसैलाब को देख उत्साहित होते हुए उन्होंने कहा कि अटल जी ने आदिवासी, पिछड़े, वंचित समाज की पीड़ा को समझते हुए अलग झारखंड देने का काम किया। पहली बार अलग जनजातीय मंत्रालय बनाया ताकि जंगल में रहने वाले हमारे भाइयों की समस्याएं हल हो सकें। कहा, सोचिए आजादी के इतने वर्षों तक उनकी चिंता करने वाला कोई नहीं था। आजतक उनके लिए मंत्रालय नहीं था। ओबीसी के लिए जो आयोग बना था लेकिन संवैधानिक अधिकार नहीं दिया। भाजपा की सरकार ने ही आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया।

झारखंड के लिए मोदी ने गिनाये सामाजिक न्याय के पांच सूत्र

मोदी ने कहा, भाजपा सरकार ने नये झारखंड के लिए सामाजिक न्याय के पांच सूत्रों पर काम किया है। पहला सूत्र है-स्थिरता। दूसरा सूत्र है-सुशासन। तीसरा सूत्र है-समृद्धि। चौथा-सम्मान और पांचवा सूत्र है-सुरक्षा। भाजपा ने झारखंड को स्थिर सरकार दी है। भाजपा ने झारखंड में भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए दिन-रात काम किया है और पारदर्शी व्यवस्थाएं बनाई हैं। भाजपा ने झारखंड में समृद्धि का मार्ग खोला है।

जल, जमीन और जंगल की सुरक्षा पर कोई आंच नहीं आने देंगे

पीएम मोदी ने कहा, भाजपा सरकार के ईमानदार प्रयासों से ही आज झारखंड के गांव-गांव में सड़कें और बिजली पहुंच रही है। बदलते हुए हालात में अब यहां रोजगार के नए साधन तैयार हो रहे हैं। यहां से जो बॉक्साइट निकल रहे हैं, उसका बड़ा हिस्सा यहीं के विकास में लगे, इसका भी प्रावधान पहली बार भाजपा की सरकार ने ही किया है। विरोधी हताशा में कुछ भी कहें, लेकिन आपके जल, जमीन और जंगल की सुरक्षा और आपके हितों पर कोई आंच नहीं आने देंगे।

कांग्रेस के पास सिर्फ समस्याएं, हमारे पास समाधान

पीएम ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ रेवड़ियां बांटनी जानती है। उनके पास समस्‍या है। हमारे पास समाधान है। उनके पास आरोप है, हमारे पास रिपोर्ट है। उत्‍तरी कोयल परियोजना को लेकर उन्‍होंने कभी गंभीर कोशिश नहीं की। कांग्रेस और उसके साथी दलों ने कभी किसानों की चिंता नहीं की। वे समस्‍याओं को टालकर वोट बटोरते रहे।

विपक्ष की दुकान हिंसा पर चलती थी

पीएम मोदी ने कहा, इन स्वार्थी लोगों (विपक्ष) में झारखंड की सेवा करने के लिए कोई भावना नहीं है। इन स्वार्थी लोगों के गठबंधन का एकमात्र एजेंडा सत्ता भोग और झारखंड के संसाधनों का दुरुपयोग है। इसीलिए ये एक बार फिर आपको भ्रमित कर आपसे वोट मांग रहे हैं। उन्होंने कहा, झारखंड में अस्थिरता का लाभ ऐसे लोगों ने उठाया जिनकी दुकान हिंसा पर चलती थी। इस स्थिति को काफी हद तक बदलने में केंद्र की और झारखंड की भाजपा सरकार ने सफलता पाई है।

भाजपा ने जो वादा किया, उसे जमीन पर उतारा

पीएम ने कहा कि बंगाल, छतीसगढ़, राजस्‍थान में किसानों को पीएम किसान योजना का लाभ नहीं दिया जा रहा है। उनको लगता है कि किसान समृद्ध होंगे तो मोदी का जय-जयकार होगा। पीएम ने कहा कि झारखंड को लूटनेवाले और सेवा करनेवाले के बीच यह चुनाव है। वोट डालने से पहले इसे समझना बहुत जरूरी है कि किसने काम किया, किस मंशा से किया। भाजपा ने जो वादे किए, जो एलान‍ किए हम जमीन पर उतार रहे हैं।

डबल इंजन की सरकार में विकास की निरंतरता

पीएम ने कहा कि दूसरी सरकारें आएंगी तो वह केंद्र की योजनाओं को लागू करने में आनाकानी करेगी। झारखंड के लिए गौरव की बात है कि उसने आयुष्‍मान भारत की लांचिंग कर पूरे देश को दिशा दी। डबल इंजन की सरकार में केंद्र और राज्‍य की योजनाओं का फायदा लोगों को अधिक मिलता है। उज्‍जवला योजना से देश के 8 करोड़ लोगों को लाभ मिला। झारखंड के 37 लाख लोगों को दूसरा सिलिंडर मुफ्त मिला। यही डबल फायदा है। पीएम किसान के साथ ही सीएम किसान आशीर्वाद योजना के जरिये डबल इंजन की सरकार ने आपके घर तक लाभ पहुंचाया। इससे विकास में निरंतरता होती है।

हर गरीब का होगा अपना घर

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भाजपा की सरकार ने यहां के खनिजों का बड़ा हिस्‍सा यहां के विकास के काम आ रहा है। मैं आपको विश्‍वास दिलाता हूं कि हम ऐसा एक गरीब भी नहीं रहने देंगे, जिसके पास अपना घर न हो। उन्होंने कहा कि सरकारें बदलती रहती है तो क्‍या हाल होता है, मैं बता देता हूं। यूपी का उदाहरण देते हुए कहा कि जब तक पुरानी सरकार थी कागज पर घर बन रहे थे। जैसे ही योगी जी की सरकार बनी सबसे ज्‍यादा घर उत्‍तर प्रदेश में बन रहे हैं।

झारखंड युवा अवस्था में, जो दिशा मिलेगी उसका भविष्य पर बड़ा प्रभाव पड़ेगा

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भविष्य में एक स्थिर और मजबूत सरकार दोबारा बनाना जरूरी है। 19-20 साल में ही परिवार में बच्चों का भविष्य तय हो जाता है। झारखंड युवा अवस्‍था में है। इस दौरान यहां जो दिशा मिलेगी, उसका राज्‍य के भविष्‍य पर बड़ा प्रभाव पड़ेगा। बीते पांच वर्षों में यहां की भाजपा सरकार ने सामाजिक न्‍याय के पांच बड़े काम किए। सम्‍मान, सुरक्षा पर बड़े काम हुए। भाजपा ने झारखंड में भ्रष्‍टाचार खत्‍म करने के लिए दिन-रात काम किया। भाजपा ने समाज के हर आदमी का गौरव बढ़ाया।

नक्‍सलवाद और अपराध से मुक्ति के लिए बेहतर प्रयास किया

पीएम मोदी ने कहा, नक्‍सलवाद और अपराध से मुक्ति के लिए बेहतर प्रयास किया। आप याद कीजिए पांच साल पहले क्‍या स्थिति थी। पहले शाम छह बजे जनजीवन थम जाता था। आज रात भर लोग सामान्‍य आवागमन कर रहे हैं। यह बड़ा बदलाव है। सरकार ने सबके लिए समृद्धि का रास्‍ता खोला है। पहले झारखंड में पिछले दरवाजे से सरकार बनती थी। यहां के विपक्षी दलों का एकमात्र उद्देश्‍य है सत्‍ता भोग। इसलिए एक बार फिर वे आपसे वोट मांग रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *