कुख्यात नक्सली ने चुनाव लड़ने की मांगी इजाजत

कुख्यात नक्सली ने चुनाव लड़ने की मांगी इजाजत

रांची। राजा पीटर के बाद अब झारखंड के कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन ने भी कोर्ट से चुनाव लड़ने की अनुमति मांगी है। मई, 2017 में सरेंडर करने वाला कुंदन कई साल तक पुलिस के लिए सिरदर्द और क्षेत्र में आतंक का पर्याय था। सरेंडर करने के बाद उसने राजनीति में आने के संकेत दिये थे। कुंदन ने एनआइए के विशेष जज नवनीत कुमार की अदालत में इस संबंध में एक याचिका दाखिल की है। रांची और खूंटी में कुंदन पाहन के खिलाफ 58 मुकदमे दर्ज हैं। बताया जाता है कि खूंटी की अदालत में भी उसने इस संबंध में याचिका दाखिल की है। उल्लेखनीय है कि डीएसपी, इंस्पेक्टर और कई पुलिसवालों की हत्या समेत 128 आपराधिक मामलों में वांछित कुंदन पाहन ने सरेंडर करते हुए कहा था कि नक्सलवाद से उसका मोहभंग हो गया है। माओवादी अपने सिद्धांतों से भटक गये हैं। इसके साथ ही उसने कहा था कि अपराध की दुनिया में जाकर उसने जो कुछ भी किया, उसके लिए उसे पछतावा है। फिलहाल वह जेल की सलाखों के पीछे है। पिछले दिनों अपराध की दुनिया से राजनीति में कदम रखने वाले तमाड़ के पूर्व विधायक राजा पीटर ने रांची की नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआइए) की अदालत में याचिका दायर कर जेल से नामांकन दाखिल करने की अनुमति मांगी थी। कोर्ट ने राजा पीटर की याचिका को स्वीकार करते हुए उन्हें नामांकन दाखिल करने की अनुमति दे दी है। संभवतः इसी को देखते हुए कुंदन पाहन ने भी यह कदम उठाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *